तेजप्रताप की शादी में खाने को लेकर हंगामा, मंच टूटा, बर्तन और अन्य चीजें लूटी गईं

अपना प्रदेश

 

आवज़ न्यूज़ डेस्क। पटना

लालू प्रसाद यादव के बच्चों की शादियां हमेशा से कुछ विशेष सुर्खियां बटोरती है। वर्षो पहले लालू की पुत्री की शादी में पटना के गाड़ियों के शोरूम से नई गाड़ियां बारातियों के स्वागत के लिए उठा ली गई थी। वो घटना बिहार में ‘जंगल राज’ का सबसे बड़ा उदाहरण बन चुकी थी।

वर्षो बाद एक बार फिर लालू के बेटे और बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव की शादी चर्चा में हैं। शनिवार की शाम तेजप्रताप राजद विधायक चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या के साथ परिणय सूत्र में बंध गए। इसके साथ ही बिहार के दो सियासी परिवारों की दोस्ती रिश्तेदारी में बदल गई। इस दिन का साक्षी बनने के लिए भारी संख्या में समर्थक तथा जन सैलाब एकत्रित हुआ था। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक 40 हज़ार लोग इस शादी में सम्मिलित हुए। भारी जन सैलाब के चलते समारोह में उस वक्त हंगामा हो गया जब भीड़ ने वीआईपी और मीडिया के लिए बने पंडाल को अलग करने वाले घेरे को तोड़ दिया तथा खाने का सामान लूटने लगे।

विवाह समारोह में जुटने वाले हजारों लोगों के लिए लालू परिवार द्वारा पूरा इंतजाम किया गया था। वरमाला की रस्म के कुछ ही समय बाद भीड़ ने घेरा तोड़ दिया और लोग खाने की चीजें लूटने लगे। ये लोग संभवत: राजद कार्यकर्ता और पार्टी समर्थक थे। देखते ही देखते पूरा क्षेत्र टूटी क्राकरी, उलटे टेबल और कुर्सियां से पट गया। इस बीच पार्टी के कई नेताओं ने लोगों को भगाने का असफल प्रयास किया। कई कैमरामैन सहित मीडियाकर्मियों ने शिकायत की कि उनके साथ हाथपायी हुई और उनके उपकरणों को क्षति पहुंचायी गई। कैटरर ने कहा कि अनियंत्रित भीड़ में शामिल लोगों ने उनके कुछ बर्तन और अन्य चीजें लूट लीं। कुल मिलाकर मेहमानों के बुरे व्यवहार के चलते शादी का ज़ायका फीका ही रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *